UC News

Google Doodle Today: कौन थे Dr Ignaz Semmelweis जिन्होंने दुनिया को हाथ धोना सिखाया?

Google Doodle Today: कौन थे Dr Ignaz Semmelweis जिन्होंने दुनिया को हाथ धोना सिखाया?

Google Doodle Today Dr Ignaz Semmelweis: आज जब दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण तेजी से फैल रहा है और पूरी दुनिया कोरोना वायरस के कहर से बचने के उपाय खोजने में जुटी है, ऐसे समय में सर्च इंजन गूगल (Google) ने हाथ धोने की जरूरत पर जोर देते हुए एक खास व्यक्ति को डूडल बनाकर याद किया है.

ये शख्स हैं डॉ इग्नाज सेमेलवीज (Dr Ignaz Semmelweis). इन्हें पूरी दुनिया 'फादर ऑफ इन्फेक्शन कंट्रोल' (father of infection control) के नाम से जानती है. डॉ सेमेलवीज की तस्वीर गूगल डूडल (Google Doodle) में हाथ धोने के तरीकों के साथ देखी जा सकती है. गूगल ने इनका एक वीडियो भी बनाया है, जिसमें हाथ धोने के तरीकों के बारे में दिखाया गया है.

बताते चलें कि गूगल अलग-अलग मौकों पर अपने होमपेज पर डूडल बनाता है और आज यह 'फादर ऑफ इन्फेक्शन कंट्रोल' के नाम है. यह टाइटल हंगरी के डॉक्टर इग्नैज सेमेलवीज को दिया गया है और उन्हें हाथ धोने की जरूरत फायदे बताने वाला पहला शख्स माना जाता है.

हंगरी के फिजीशियन इग्नाज ने सबसे पहले हाथ धोने के मेडिकल बेनिफिट्स बताये थे. 20 मार्च 1847 को सेमेलवीज ने वियना जनरल हॉस्पिटल के मैटरनिटी क्लीनिक में साफ हाथों की जरूरत पर जोर दिया. इस क्लीनिक में उन्हें चीफ रेजिडेंट बनाया गया था, जिसके बाद उन्होंने सभी फिजीशियंस से उनके हाथ क्लोरिनेटेड लाइम सॉलूशन की मदद से डिसइन्फेक्ट करने को कहा.

बताते चलें कि इग्नैज को मैटरनिटी क्लीनिक का चीफ रेजिडेंट बनाये जाने से पहले मां बनने वाली महिलाएं बड़ी संख्या में इन्फेक्शन और डिलीवरी के बाद होने वाले बुखार के चलते जान गंवा रही थीं. इसकी वजह जानने की कोशिश में डॉक्टर इग्नाज को पता चला कि कई डॉक्टरों के हाथ पर मौजूद संक्रामक बीमारियां ढंग से हाथ न धोने की वजह से अन्य लोगों तक पहुंच रही थीं.

इसका पता चलने के बाद डॉ सेमेलवीज साथी डॉक्टरों से काफी नाराज हुए और साफ-सफाई का ख्याल न रखने के लिए उनपर हत्या के आरोप लगाये. उन्हें मेंटल हॉस्पिटल में एडमिट करना पड़ा, जहां उनकी मौत हो गई. इग्नाज की मौत के बाद ही सामने आया कि हाथ धोने की जरूरत को लेकर किये गए उनके दावे सही थे. उनके प्रस्ताव को 1840 में वियना में लागू किया गया. हाथ धोने की व्यवस्था लागू करने के बाद मृत्यु दर में तेजी से गिरावट आयी. उनके काम को याद करते हुए गूगल ने डूडल शेयर किया है, जिसमें हाथ धोने का सही तरीका दिखाया गया है.

कोरोना से बचने को लेकर आज पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा बतायी जाने वाली बात यही है कि आप अपने हाथ साफ रखें, समय-समय पर उसे धोते रहें. उसे 20 से 40 सेकेंड तक अच्छे से धोएं. इससे आप बैक्टीरिया और वायरसों को शरीर के अंदर जाने से रोक सकते हैं. बताते चलें कि वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) की ओर से भी दुनियाभर में लोगों से बार-बार सही ढंग से हाथ धोते रहने को कहा जा रहा है. तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस से बचे रहने के लिए साफ-सफाई का यह सबसे कारगर तरीका है.

READ SOURCE
Open UCNews to Read More Articles