UC News

CAA का विरोध करने वालों को BJP सांसद ने 'कुत्ता' बुलाया

CAA का विरोध करने वालों को BJP सांसद ने 'कुत्ता' बुलाया

नागरिकता संशोधन कानून यानी CAA देश में लागू हो चुका है. लेकिन इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी हैं. कुछ लोगों ने इसका समर्थन भी किया है. जब से यह बिल संसद में पास हुआ है तब से ही इस पर राजनीति भी जारी है. नेता विवादित बयान दे रहे हैं. 19 जनवरी को BJP सांसद सौमित्र खान ने CAA का विरोध करने वालों को ‘तृणमूल का कुत्ता’ कह दिया, वहीं बीजेपी के ही सायंतन बसु ने प्रदर्शनकारियों को बंदर बुलाया है.

सौमित्र खान ने बशीरहाट में कहा,

‘जो पढ़े-लिखे लोग राज्य सरकार से पैसे लेकर CAA का विरोध कर रहे हैं, वो तृणमूल के कुत्ते हैं.’

सौमित्र खान 2019 में हुए लोकसभा चुनाव से पहले TMC (तृणमूल कांग्रेस) छोड़कर BJP में शामिल हो गए थे. फिलहाल वह पश्चिम बंगाल की विष्णुपुर सीट से सांसद हैं. इनके बयान को आगे बढ़ाते हुए BJP के सायंतन बसु ने कहा-

अगर आपको ‘कुत्ते’ शब्द से दिक्कत है तो आप उन्हें बंदर बुला सकते हैं. कोई दिक्कत नहीं है. लेकिन हम कुत्ते ही कहेंगे.

सायंतन बसु पश्चिम बंगाल में BJP के महासचिव हैं.

वहीं, केंद्र की BJP सरकार पर हमला बोलते हुए NCP नेता जितेंद्र आव्हाड ने कहा-

मैं दिल्ली की तख्त से पूछता हूं, अब तू मांगेगा मुझसे सबूत मेरे देशवासी होने का? तो सुन, जब तेरा बाप सिर झुकाकर अंग्रेजों के तलवे चाट रहा था, तब मेरा बाप फांसी के तख्त को चूमके इंकलाब ज़िंदाबाद के नारे लगा रहा था.

जितेंद्र आव्हाड राष्टवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) नेता हैं और महाराष्ट्र सरकार में हाउसिंग मिनिस्टर हैं. इन्होंने अपने इस बयान के बाद ट्वीट किया कि ये उनकी एक कविता है, जो CAA, NPR, NRC के खिलाफ लिखी गई है.

हालांकि इन नेताओं के पहले भी CAA पर कई बयान आते रहे हैं. बंगाल BJP अध्यक्ष दिलीप घोष, उत्तर प्रदेश सरकार के श्रम मंत्रालय में   भी CAA को लेकर काफी हिंसक बयान दे चुके हैं.

वीडियो देखें : दिलीप घोष, पप्पू यादव और रघुराज सिंह के विवादित बयान से बवाल हुआ!

READ SOURCE
Open UCNews to Read More Articles