UC News

Bigg Boss को आखिर क्यों पड़ गई इतने बदलाव करने की जरूरत

Salman Khan 2010 से लगातार Bigg Boss को होस्ट कर रहे हैं, लेकिन TRP के लिहाज से देखें तो इन्हें बदलना बिग बॉस के लिए घाटे का सौदा होगा. जिस सीजन अमिताभ बच्चन शो पर होस्ट थे, उस साल शो को सबसे कम टीआरपी मिली थी.

बिग बॉस को पर्दे पर आने में अब ज्यादा समय नहीं बचा है. यूं समझिए कि बस कुछ दिन शेष हैं और बिग-बॉस अपने नए सीजन के साथ दर्शकों के सामने होगा. Bigg Boss 13, 29 सितंबर से शुरू हो रहा है.

वैसे तो Bigg Boss हर साल किसी त्योहार की तरह आता है. तीन महीने दर्शकों को इंटरटेन करता है और अगले साल फिर से आने का वादा करके चला जाता है. सालों से यही होता आया है. घर में कुछ लोग कैद होते हैं, वो लड़ते झगड़ते हैं, हर सप्ताह एक व्यक्ति बाहर होता है और आखिर तक टिकने वाला विजेता बनता है. होस्ट भी सालों से Salman Khan ही हैं. फिर Bigg Boss में नया क्या है?

तो सुनिए जनाब. बिग बॉस भले ही हर साल एक-जैसा नजर आता हो, लेकिन इसे हर साल लाने के लिए इसे बनाने वालों को बहुत मेहनत करनी पड़ती है. हर साल आने वाला ये शो बोरिंग न हो जाए इसके लिए उसमें नए-नए प्रयोग किए जाते हैं. नया कॉन्सेप्ट लाया जाता है. इस बार भी कई बदलाव किए गए हैं. जो शो में नयापन ला सकते हैं. लेकिन पहले ये वीडियो देख लीजिए.

इस बार किस तरह से अलग होगा बिग बॉस

लोनावला से मुंबई शिफ्ट हो गए हैं बिगबॉस-

अब तक बिगबॉस हाउस पुणे के पास स्थित हिल स्टेशन लोनावला में होता था. जहां सब रहने जाते थे. लेकिन इस बार बिग बॉस हाउस मुंबई के गोरेगांव फिल्म सिटी में ही है. यानी बिग बॉस की शूटिंग इस बार मुंबई में ही हो रही है. हालांकि टीवी पर देखने से ये पता ही नहीं चलता कि बिग बॉस का घर कौन सी जगह पर है, क्योंकि टीवी पर तो घर के अंदर क्या चलता है ये दिखाया जाता है. हालांकि मौसम का असल तो बिगबॉस हाउस में कहने वालों पर होता है.

कॉन्सेप्ट वही लेकिन commoners के लिए no entry-

हालांकि बिंग बॉस का कॉन्सेप्ट एक ही जैसा है कि एक घर में कुछ लोगों को कुछ सप्ताह के लिए बंद कर देते हैं, जिनका बाहरी दुनिया से कोई संपर्क नहीं होता. हर सप्ताह एक व्यक्ति को जाना होता है और आखिर तक टिकने वाला विनर होता है. लेकिन इसमें नयापन लाने के लिए तरह-तरह के सेलिब्रिटी और विवादित लोगों को लाया जाता था. एक दो व्यक्ति non celebrity भी होते थे. लेकिन सीजन 10, 11 और 12 में आधे सेलिब्रिटी और आधे कॉमनर्स को घर में रखा जाने लगा. यानी सेलिब्रिटी की संख्या कम हो गई. लेकिन इस बार यानी सीजन 13 में फिर एक बदलाव किया जा रहा है. इस बार कोई कॉमनर बिग बॉस के घर में नहीं होगा. दर्शकों को इस सीजन सारे सेलिब्रिटी ही दिखाई देंगे, जैसे कुछ साल पहले दिखाई देते थे.

पहले से powerful हुए हैं Salman Khan

पर्दे पर हमें शो के होस्ट सलमान खान ही नजर आते हैं, बिग बॉस की केवल आजा सुनाई आती है. लेकिन सुनने में आ रहा है कि इस बार Bigg Boss 13 Salman Khan के इशारों पर नाचने वाला है. क्योंकि सलमान खान को इससीजन में सुपरपावर दी जा रही है. मिड डे की खबर के मुताबिक सलमान खान बिग बॉस 13 के पहले हफ्ते में कंटेस्टेंट्स को खुद बाहर निकाल सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक शो के पहले हफ्ते में जो भी सदस्य घर में खराब प्रदर्शन करेगा, उसे सलमान खान बाहर निकाल सकते हैं. इसके अलावा वह शो के दूसरे हफ्ते में खुद सदस्यों को बाहर निकालने के लिए नॉमिनेट कर सकते हैं. इससे पहले सलमान खान को किसी भी कंटेस्टेंट को निकाल देने की पॉवर नहीं दी गई थी.

bigg boss की आवाज

बिग बॉस में हमेशा बिग बॉस की आवाज ही सुनाई जाती है. 'बिग बॉस चाहते हैं'...कहने वाला ये शख्स आज तक पर्दे के सामने नहीं आया. हालांकि खबरों की मानें तो इस बार बिग बॉस में इस आवाज के साथ-साथ एक महिला बिग बॉस की आवाज सुनाई जा सकती है, और अगर ऐसा होता है तो ये बिग बॉस के इतिहास में पहली बार होगा.

Bigg Boss को आखिर क्यों पड़ गई इतने बदलाव करने की जरूरत
सलमान खान 2010 से लगातार शो को होस्ट कर रहे हैं, लेकिन इन्हें बदलना बिग बॉस के लिए घाटे का सौदा है

रियरिलिटी शो के लिए कितने जरूरी होते हैं बदलाव

कहते हैं कि बदलाव प्रकृति का नियम है. और आगे बढ़ने के लिए हर किसी को बदलना ही चाहिए. बिग बॉस भी अगर हर साल बदलाव न लाए तो शो को भला कौन देखेगा. टीआरपी के लिए बदलाव के साथ-साथ क्रिएटिविटी की भी काफी अहमियत है. और इसीलिए शो बनाने वालों को हर साल नयापन लाने के लिए माथापच्ची करनी ही पड़ती है. ये बदलाव शो के नियम, तरह-तरह के कंटेस्टेंट्स के चुनाव, नए-नए टास्क आदि के रूप में दिखाई देते रहे हैं. कभी शो पर प्यार दिखाई देता है तो कभी शादी भी करवा दी जाती है. ये सब इसलिए कि दर्शक शो से जुड़े रहें. और इस जुड़ाव के लिए बिग बॉस पर LGBTQ कम्यूनिटी से जुड़े एक शख्स को करीब करीब हर साल लिया ही जाता रहा है. वहीं ऐसे शख्स भी हमेशा से शो का हिस्सा रहे हैं जो विवादित रहे हैं. वो भी जो स्वाभाव से उद्दंड़ और लड़ाका रहे हैं. जैसे डॉली बिंदरा या राजा चौधरी जैसे. वो भी जो अजीब थे, स्वामी ओम जैसे. जिन्होंने धर्म और आस्था का एक अलग ही चेहरा दुनिया के सामने रखा था. बिग बॉस का चेलेंज ही अलग-अलग रंगों को एक साथ लाना ही है.

लेकिन इस बार कॉमनर्स का ना होना शो का सबसे बड़ा बदलाव है. ऐसा करना इसलिए जरूरी था क्योंकि पिछले तीन साल से बिग बॉस में कॉमनर्स की एंट्री दर्शकों को उबाऊ लगने लगी थी. पहले शो को सेलिब्रिटीज़ के लिए देखा जाता था. जिन्हें देखने का अपना अलग की चार्म होता था. फिर आए कॉमनर्स, जो शो को वो TRP नहीं दे पाते थे, जो ये सेलिब्रिटी देते थे. दर्शकों को इनसे जुड़ने के लिए काफी लंबा समय लगता था. जो शो की टीआरपी के लिए ठीक नहीं था. इसलिए इस बार शो में कॉमनर्स नहीं दिखाई देंगे, सिर्फ सेलिब्रिटी ही होंगे. और इस तरह बिगबॉस 13 टीआरपी के मामले में परेशान नहीं होगा. टीवी सीरियल्स में काम करने वाले सितारों को भी बिग बॉस पर लाना टीआरपी के लिए ही था. और हर साल सलमान खान का बतौर होस्ट होना भी टीआरपी का ही खेल है. 2010 से लगातार शो को होस्ट कर रहे हैं, लेकिन इन्हें बदलना बिग बॉस के लिए घाटे का सौदा है. जिस सीजन अमिताभ बच्चन शो पर होस्ट थे, उस साल शो को सबसे कम टीआरपी मिली थी. बहरहाल इस बार शो पर आने वाले सेलिब्रिटी का चयन भी सोच-समझकर ही किया गया होगा जिससे वो शो पर रायता फैला सकें.

शो पर आने वाले कंटेस्टेंट के नाम हर साल की तरह सिर्फ तुक्कों और अफवाहों पर आधारित हैं, और हमेशा की तरह ये शो के प्रिमियर के दिन ही पता चलेगा कि वो कौन होंगे.

READ SOURCE
Open UCNews to Read More Articles