UC News

क्यों हो रहे हैं भारत में लोकप्रिय चीनी कंपनी शाओमी के स्मार्टफोन

अधिक नई रोचक खबरों के लिए हम से जुड़े रहे और उपर दिये गए पीले बटन को दबाये।

क्यों हो रहे हैं भारत में लोकप्रिय चीनी कंपनी शाओमी के स्मार्टफोन
Third party image reference

चीनी टेक कंपनी शाओमी (Xiaomi) ने कुछ सालों के अंदर ही भारत में कम क़ीमतों के स्मार्टफोन बाजार पर कब्ज़ा कर लिया है। इस चीज को टेक विशेषज्ञों ने समझाया है। 15 मिनट के भीतर ही शाओमी का लेटेस्ट स्मार्टफोन रेडमी नोट 8 को बिकने में, जब सोमवार को उसे ऑनलाइन 'फ्लेश सेल' के लिए डाला गया। कंपनी के लिए ये कोई नई बात नहीं है बल्कि ये कंपनी की इंडिया स्ट्रैटिजी का अहम हिस्सा है। टेक्नोलॉजी मामलों की पत्रकार माला भार्गव ने कहा है कि आपको पहले ऑनलाइन रजिस्टर करना होता है और फिर इन फ्लेश सेल्स पर नज़र रखनी होती है. जैसे ही ये शुरू हो आप ख़रीददारी कर सकते हैं। हालांकि शाओमी के मोबाइल ऑफलाइन स्टोर्स में भी मिलते हैं। ज़्यादातर नए मॉडल पहले ऑनलाइन बिकते हैं, जो कंपनी की सेल का आधे से ज़्यादा होता है।

Third party image reference

शाओमी की स्मार्टफोन बाजार में है इतनी हिस्सेदारी जयंत कोला ने कहा है कि उनकी ऑनलाइन मौजूदगी से भारत में उन्हें पसंद करने वालों की तादाद बढ़ी है। इससे शाओमी देश के स्मार्टफोन मार्केट में एक बड़ा प्लेयर बनकर उभरा है। भारत के बढ़ते स्मार्टफोन मार्केट पर आधे से ज्यादा नियंत्रण चीनी कंपनियों का है। इस समय इन कंपनियों से 45 करोड़ से ज्यादा ग्राहक जुड़े हैं। मतलब भारत में शाओमी का आठ अरब डॉलर का बाजार है। वहीं, शाओमी की भारत के बाजार में 28% हिस्सेदारी है।

आईफोन की तरह दिखते हैं फोन भार्गव ने कहा है कि कपंनी ऐसे फोन से लेकर आई जो आईफोन की तरह दिखते थे। उनके उत्पादों की पहली खेप की एपल के उत्पादों से तुलना की गई और कंपनी की इसके लिए आलोचना भी हुई थी। लेकिन बात सिर्फ इतनी नहीं थी कि शाओमी के फोन आईफोन की तरह दिखते थे। इन फोन में ढेर सारे फीचर और हार्डवेयर थे, जिससे भारतीयों को लगा कि उनके पैसे वसूल हो गए हैं।

Third party image reference

साल की शुरुआत में लॉन्च हुआ रेडमी के20 स्मार्टफोन इस साल की शुरुआत में जब के20 नई सीरीज आई तो शाओमी लुढ़क गया था। शाओमी के भारतीय डायरेक्टर मनु जैन ने कहा था कि कुछ साल पहले भारत के स्मार्टफोन बाजार में कंपनी का हिस्सा तीन से चार प्रतिशत था। जो अब बढ़ गया है।

Topic:
READ SOURCE
Open UCNews to Read More Articles

HOT COMMENTS

Gullu

hamara desh gareb hai isleye. china ke mobile log lete hai.

1 Months ago

1
Humayun

Nice phone

1 Months ago

0
Read More Comments